भारतीय कामगार हुए बेरोज़गार भारतीयों के लिए ….

Kuwait

कुवैती पब्लिक अथॉरिटी फॉर मैनपावर ने कुवैत की एक अस्थानिये मीडिया के ज़रिये से बताया की जून से भारत के 105 अल शुएबा बंदरगाह के कर्मचारियों के बारे में एक रिपोर्ट करने के बाद मामला हरकत में आया , जिन कर्मचारियों को जून के महीने उन्हें उनका वेतन नहीं मिला था।

PAM के कर्मचारी इस समस्या को सुलझाने के लिए मंगाफ के इलाक़े में इन कर्मचारियों के घर पर गए जंहा पर ये 105 कर्मचारी रहते थे , PAM कर्मचारी वंहा इसलिये गए क्यूंकि उनको शिकायत मिली थी की उन कर्मचारियों को वेतन अभी तक नहीं मिला है।

PAM के कर्मचारियों ने कहा की यह शिकायत वेतन और रेजिडेंस वीज़ा को रिनीव ना होने को लेकर थी और पासपोर्ट को भी लेकर थी , जिसमे कमपनी ने अपर्याप्त आवास के अलावा पकडे हुए थी।

कॉन्ट्रैक्ट का ख़तम हो जाना और मजदूरों को भुक्तान न करने के कारण नियुक्ता की फाइल को पहले ही पूरी तरह से बंद कर दिया है। इसमें कंपनी के कानूनी सलाहकारों को कानून की तरह से इस मामले को निपटाने के लिए भी बुलाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *