Lसाऊदी अरब ने एक बार फिर पेट्रोल के दाम कम कर दिए

Saudi news

सऊदी अरब में तेल के बाजार में अब गिरावट आई है। सऊदी अरामको ने अपने नए अपडेट में कहा है की अब सऊदी अरब में तेल की कीमतों में कमी की जाएगी। जो नया तेल का दाम होगा वो 11 अक्टूबर 2020 लागु होगा और 10 नवंबर 2020 तक लागु रहेगा यानि एक महीने तक रहेगा।

आपको बता दे अरामको कंपनी अपने तेल के दाम हर महीने की 10 को जारी करती है। जो ईधन का नया दाम होगा वो सऊदी अरब में कल से शुरू हो चूका है और सभी ईधन के दामों की एक लिस्ट जारी की है।
गैसोलीन 91 : अब 1 ,44 सऊदी रियाल लीटर है जबकि पहले 1 , 47 सऊदी रियाल लीटर थी।
गैसोलीन 95 : अब 1 , 59 सऊदी रियाल लीटर है जबकि पहले 1 , 63 सऊदी रियाल लीटर थी।
डीजल : अब 0 , 52 सऊदी रियाल लीटर है जबकि पहले 0 , 52 सऊदी रियाल लीटर था , इसमें कुछ नहीं बदला।
केरोसिन : अब 0 , 70 सऊदी रियाल लीटर है जबकि पहले 0 70 लीटर था , इसके भी दामों में कुछ नहीं बदला।
एलपीजी : अब 0 , 75 सऊदी रियाल लीटर है , इसके दामों में भी कुछ नहीं बदला।

कंपनी के मुताबिक , गैसोलीन की लोकल कीमते सऊदी अरब से अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में एक्सपोर्ट की कीमतों में बदलाव के आधार पर निर्भर है , इसलिए कीमतों में बदलाव होता रहता है। सऊदी अरामको कंपनी ने कहा की , जो अप्रूवल एनर्जी और पानी के प्रोडक्ट की कीमत हुकूमत के तरीके के मुताबिक की जाती है।

सऊदी अरामको रोज़ इंजन में चलने वाले और जो जरूरी तेल है उनकी जरूरियात को पूरा करने के लिए पेट्रोल देता है। क्यूंकि जो कारे गैसोलीन पर चलती है उनकी जरूरतों को पूरा करने के लिए दोनों तरह के गैसोलीन 91 और 95 मुहैया कराता है , और टरको और बड़े वाहनों में चलने के लिए डीजल भी मुहैया कराता है।

यह चीज़ यह दिखाती है की की जब तक ईधन को ग्राहक के टैंक में नहीं डाला जाता तब तक वो कई बार टेस्ट होता है और उसे कई प्रोडक्शन साइकिल से गुजरना पड़ता है जिससे ग्राहक तक सही तेल को पहुँचाया जा सके , तेल को कई टेस्टो और सर्टिफिकेट्स से गुजरना पड़ता है। जो यह ईधन होता है इसको कई डाइज से इंजेक्ट किया जाता है जिससे इसे पहचानने में आसानी हो और पम्पिंग के दौरान इसकी क्वालिटी को भी पहचाना जा सके और यह ये भी दिखता है की सभी पेट्रोल में एक लीड – फ्री फंक्शन भी होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *