साऊदी अरब मैं FINAL EXIT वीज़ा लगवाने के लिए नए कानून

Saudi news

सऊदी अरब पूरी दुनिया में अकेला ऐसा देश है जंहा पर सबसे ज्यादा गैर मुल्की कामगार काम करते है और ये सभी गैर मुल्की सऊदी अरब की अलग अलग कंपनियों में अलग अलग डिपार्टमेंट में काम करते है।

पूरी दुनिया में देखा जाए तो सऊदी अरब में मजदूरों को पैसा कमाना बहुत ही आसान है यंहा पर मजदूर अच्छा खासा पैसा कमा लेता है इसी लिए सऊदी अरब में सबसे ज्यादा गैर मुल्की मजदूर ही मिलेंगी।

सऊदी अरब में 2017 से पहले सबसे ज्यादा नौकरी शुदा गैर मुल्की ही थे और ये कर्मचारी दुनिया के अलग अलग देशो से थे। सऊदी अरब में 2017 से पहले ज्यादा तर गैर मुल्की सऊदी अरब में अपने परिवारों के साथ रहा करते थे , लेकिन 2017 में डिपेंडेंट फीस शुरू होने की वजह से सभी गैर मुलकियो ने अपने परिवारों को अपने देश वापस भेज दिया , और डिपेंडेंट फीस से बचने के लिए उन्होंने फाइनल एग्जिट वीज़ा का इस्तेमाल किया।

आपको बता दे सऊदी अरब में विज़न 2030 से बहुत ज्यादा रोजगार खुलेंगे लेकिन रोजगार के लिए कानून भी सख्त बनाये जाएंगे और यह सऊदी कानून के अंडर में आएंगे।अगर कोई भी प्रवासी सऊदी अरब को छोड़ना चाहता है तो उसे फाइनल एग्जिट वीज़ा पर जाना होगा और उसके लिए जवाजात ने रूल्स और रेगुलेशन की एक लिस्ट भी जारी की है जिसमे फाइनल एग्जिट वीज़ा के लिए जो जुरमाना और सभी चीजे बताई है।

जवाजात ने फाइनल एग्जिट वीज़ा के लिए एक लिस्ट भी जारी की है :
1 )अगर कोई गैर मुल्की एक बार फाइनल एग्जिट वीज़ा हासिल कर लेता है तो उसे 60 दिनों के अंदर अंदर सऊदी अरब को जरूर छोड़ना होगा।
2 ) अगर कोई गैर मुल्की 60 दिनों के बाद सऊदी अरब को छोड़ता है तो उसे एक हजार सऊदी रियाल का जुरमाना देना होगा।


3 ) आपको बता दे यह एक हजार सऊदी रियाल का जुरमाना जो आपसे लिया जाता है वो पहले वीज़ा को रद्द करने अगर आपके इकामा की वैधता है तो एक नया फाइनल एग्जिट वीज़ा जारी करने के लिए लिया जाता है।

अगर कोई प्रवासी जो छुट्टी के लिए सऊदी अरब को छोड़ देता है और सऊदी अरब वापस आना चाहता है तो उसे एग्जिट RE – ENTRY वीज़ा की जरूरत होती है। अगर किसी का EXIT RE -ENTRY वीज़ा ख़तम होने के कुछ दिनों के अंदर वो सऊदी अरब को बता नहीं पाता तो ऐसे प्रवासी पर 3 साल के लिए सऊदी अरब में आने के लिए प्रतिबंध लगा दिया जाता है , फिर वो 3 साल के लिए सऊदी अरब में नहीं आ सकता। जब उसके ये 3 साल पूरे हो जाएंगे तो वो सऊदी अरब वापस आ सकता है।

अगर किसी प्रवासी के वीज़ा की वैधता 60 दिन बची हुई है और वो अपना EXIT RE – ENTRY वीज़ा पर सऊदी अरब नहीं लौट पता तो उसका कफील उसपर हरूब लगा सकता है या फिर अबशर का इस्तेमाल कर सऊदी जवाजात में उसकी शिकायत दर्ज कर सकता है। अगर एक बार EXIT RE – ENTRY वीज़ा जारी हो गया तो वो उसे बदल नहीं सकता अगर वो बदलना चाहता है तो उसे 1 हजार सऊदी रियाल का जुरमाना देना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *